[Ranu mandal] Life Story of Ranu Mandal

नमस्कार दोस्तों

दोस्तों सोशल मीडिया की ताकत है : वो किसी को रातों-रात ह hi स्टार बना सकता है. इसका सीधा सीधा उदाहरण है. स्टेशन से बॉलीवुड तक सफर करने वाली रानू मंडल (Ranu Mandal) की. यूं तो कुछ दिन पहले पेट पालने के लिए स्टेशन पर गाना गाते थे.

Life Story of Ranu Mandal
Life Story of Ranu Mandal

लेकिन एक दिन अतिंद्र चक्रवती नाम के एक शख्स Ne उनको टैलेंट को पहचाना  और फिर उनके गाने को सूट कर के सोशल मीडिया पर डाल दिया. हालांकि यहां पर यह उम्मीद तो नहीं थी. अतिंद्र द्वारा शेयर किया वीडियो देखते ही देखते किसी की जिंदगी बदल देगा. लेकिन हुआ कुछ ऐसा ही. धीरे-धीरे रानू मंडल (Ranu Mandal)  का गाना ऐसा  शेयर हुआ. रातो रात आम लोगों के साथ-साथ बहुत सारे सेलिब्रिटी गानों की तारीफ की. और इसके बाद ही रेलवे प्लेटफार्म पर गाने  बाली  रानू मंडल. अचाना  ही बॉलीवुड तक का सफर कर ली. अभी हाल ही में उन्हें  “हिमेश रेशमिया के”  अपकमिंग  फिल्म “हैप्पी आरडी एंड हीरो” देखा जा सकता है. हालांकि इस पूरे घटना के बाद. हर कोई यह जानना चाहता है. Akhir रानू मंडल है कौन.

और आज इस आर्टिकल के द्वारा हम आपको यही बताना चाहते हैं.  तो दोस्तों रानू मंडल (Ranu Mandal) बंगाल की नदिया जिला की  राणाघाट में रहते हैं.  और उनकी शादी मुंबई के रहने वाले बाबुल मंडल से हुई थी. दुर्भाग्य के कारण उनको जल्द ही मौत हो गई. और फिर वह  राणाघाट में आग कर रहने लगी.  वापस आने के बाद उनके घर वालों ने उनका बिल्कुल भी  सपोर्ट नहीं की. और ही मजा था उनको पेट पल्ले के लिए कुछ ना कुछ करना था. और 20 साल की  उमर में. एक क्लब में गाना गाने की काम करते हैं.

और उनका कहना है.  लोग उस समय भी. उनकी गानों की खूब तारीफ  करती थी.  और वहां पर सभी उन्हें रोनी बॉर्बी कहकर बुलाते थे. समाज और परिवार के दबाव के चलते उन्हें यह काम मजबूरन छोड़ना पड़ा.और फिर  रानू मंडल के पास ऐसी समस्या आ गई. उनके पास खाने तक की भी पैसा नहीं थे. और कैसी भी अपने आप को जीवित रखने के लिए. और फिर  रानू मंडल (Ranu Mandal) ने रेलवे स्टेशन पर गाना गाना शुरू कर दिया. और अभी हाल ही में सोनी टीवी सिंगिंग रियलिटी शो. सुपरस्टार सिंगर रानू से यह पूछा गया. आप इसी तरह रेलवे स्टेशन पर गाना क्यों  गाती थी. और फिर  रानू ने हंसते हुए कहा. की में रेलवे स्टेशन  पर इसलिए गाती थी. क्योंकि मेरे पास रहने के लिए घर नहीं था और गाना गाकर मैं अपना पेट भर टी थी.गाने कर सुन के कोई बिस्किट या कोई पैसा देकर जाता है. और फिर उस समय उनकी बेटी भी उनका साथ छोड़ कर चली गई थी.

क्योंकि उन्हें अपने मां के कामों से शर्म आने लगी थी. और फिर इसी तरह से कई सालों तक रानू ने रेलवे स्टेशन पर गाना गाते हैं. वे अपना पेट पालते थे. लेकिन दोस्तों कहते थे अगर किसी के अंदर सच में टैलेंट है. तो वह कभी ना कभी बाहर आकर रहेगा. और ऐसा ही हुआ  रानू मंडल (Ranu Mandal) के साथ. रेणुका गाने की वीडियो   रानाघाट स्टेशन पर अतिंद्र चक्रवर्ती नामक शख्स ने उनकी वीडियो शूट करके सोशल मीडिया पर शेयर कर दी थी. और यह गाना देखते ही देखते 1 जुलाई 2019 में वायरल हो गया .और यहां से  रानू मंडल (Ranu Mandal) रातो रात सुपरस्टार बन गई. और इसके बाद से फिल्म प्रोडक्शन हाउस, बंगाल के लोकल क्लब, और भैंस की तरह ही अलग-अलग जगह से  ऑफर  आना चालू हो गए.

और इस तरह से देखते ही देखते. सोशल मीडिया की वजह से रानू ने पुरी भारत में पहचान बना ली. और अभी हाल ही में सुर संगीतकार हिमेश रेशमिया क्या अपकमिंग फिल्म हैप्पी "happy hardy and heer" लिए एक गाना भी रिकॉर्ड किया है. और यह गाना भी. लोगों को भी सोशल मीडिया पर.  खूब शेयर किया गया.  और  इसके अलावा कई सारे सिंगिंग रियलिटी शो में भी. इनवाइट किया जा चुका है.और दोस्तों रानू की बढ़ती हुई  पॉपुलर ट्री को देखकर उनके बेटी भी  उनके साथ आ गई . और इस पर रानू ने कहा.   और यह है मेरी दूसरी जिंदगी है.




और Akhir में  हम यही कहना चाहते. रेलवे स्टेशन  गाना गाकर गुजारे करने वाले रानू मंडल (Ranu Mandal) को . आखिरकार वह मौका मिल गया. जिसका वह हकदार था .और उनकी कहानी से हमें सबको Inspire होना चाहिए.

हम आशा करते हैं आपको इस कहानी से कुछ सीखने को मिला होगा. जो आपको  सफलता की ओर ले जाएगा.

 इस Article का पूरा क्रेडिट जाता है पूरा Credit जाता है Live Hindi को.

Post a Comment

0 Comments